12.8 C
Munich
Saturday, June 22, 2024

50 का ‘जादुई आंकड़ा’ और लोकसभा एग्जिट पोल – पिछले 3 सर्वेक्षणों में कैसे रहे आंकड़े


लोकसभा के लिए सातवें चरण का मतदान 1 जून को शाम 6:30 बजे तक चुनाव 2024 खत्म हो जाएंगे। उसके बाद देशभर के टीवी चैनलों पर सबसे ज्यादा इंतजार किए जाने वाले एग्जिट पोल के आंकड़े जारी किए जाएंगे। इन एग्जिट पोल से पार्टियों की जीत-हार का अंदाजा लगाया जा सकता है।

यदि 2009 से 2019 तक के एग्जिट पोल पर नजर डालें तो स्पष्ट है कि जीतने वाली पार्टी या गठबंधन को एग्जिट पोल में प्राप्त औसत से लगभग 50 सीटें अधिक वास्तविक परिणाम में मिली हैं।

2009 एग्जिट पोल

2009 के लोकसभा चुनाव में दो प्रमुख गठबंधन मैदान में थे। संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA)। UPA में वे दल शामिल थे जो कांग्रेस के साथ थे। NDA में वे दल शामिल थे जो भाजपा के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ रहे थे।

2009 के लोकसभा चुनाव के लिए जारी एग्जिट पोल में यूपीए को औसतन 195 सीटें मिलती दिख रही थीं, जबकि एनडीए को करीब 185 सीटें मिलने का अनुमान था। जब चुनाव नतीजे सामने आए तो जीतने वाले गठबंधन यूपीए को 262 सीटें और एनडीए को 158 सीटें मिलीं। अगर इनमें अंतर देखें तो एग्जिट पोल के आंकड़ों और जीतने वाले गठबंधन यानी यूपीए के वास्तविक आंकड़ों में करीब 54 सीटों का अंतर था।

उस साल स्टार-नीलसन ने यूपीए को 199 और एनडीए को 196 सीटें दी थीं। सीएनएन आईबीएन-दैनिक भास्कर ने यूपीए को 195 और एनडीए को 175 सीटें दी थीं। इंडिया टुडे-सी वोटर ने यूपीए को 195 सीटें दी थीं, जबकि एनडीए को 189 सीटें मिलीं। हेडलाइंस टुडे ने अपने एग्जिट पोल में यूपीए को 191 और एनडीए को 180 सीटें दी थीं। जब इन सभी आंकड़ों का औसत निकाला गया तो एग्जिट पोल में यूपीए को 195 सीटें मिलीं और एनडीए को 185 सीटें मिलीं। असल नतीजों में 2019 के लोकसभा चुनाव में यूपीए को 262 सीटें मिलीं, जबकि एनडीए को 158 सीटें मिलीं।

2014 एग्जिट पोल

2014 में आंकड़े 2009 के मुकाबले बदल गए। 2014 के एग्जिट पोल के आंकड़ों ने उस साल राजनीतिक सरगर्मियों को चौंका दिया था। न्यूज 24 चाणक्य ने एनडीए को अधिकतम 340 सीटें दी थीं, जबकि कांग्रेस को केवल 70 सीटें दी गई थीं। इंडिया टुडे-सीवोटर, सीएनएन आईबीएन-सीएसडीएस और एनडीटीवी-हंसा रिसर्च ने अपने-अपने एग्जिट पोल में एनडीए को अधिकतम 289, 280 और 279 सीटें मिलने का अनुमान लगाया था।

एबीपी न्यूज़-नीलसन ने एग्जिट पोल में एनडीए को 274 सीटें, इंडिया टुडे-सिसेरो ने 272 सीटें और टाइम्स नाउ-ओआरजी ने एनडीए को 249 सीटें दी थीं। जब इन सभी आंकड़ों का औसत निकाला गया तो एग्जिट पोल में एनडीए को 283 सीटें मिलीं, लेकिन जब वास्तविक परिणाम आए तो एनडीए को 336 सीटें मिलीं। इस बार भी जीतने वाले गठबंधन को एग्जिट पोल में मिले औसत नंबरों से वास्तविक परिणाम में 53 सीटें ज़्यादा मिलीं।

2019 एग्जिट पोल

2019 के एग्जिट पोल में लोकसभा चुनाव, इंडिया टुडे-माई एक्सिस ने विजयी गठबंधन एनडीए को अधिकतम 352 सीटें दीं। न्यूज़ 24-टुडेज चाणक्य ने एनडीए को 350 सीटें दीं, न्यूज़ 18-आईपीएसओएस ने 336 सीटें दीं, वीडीपी एसोसिएट्स ने 333 सीटें दीं, सुदर्शन न्यूज़ ने 313 सीटें दीं, टाइम्स नाउ-वीएमआर ने 306 सीटें दीं, सुवर्णा न्यूज़ ने 305 सीटें दीं, इंडिया टीवी-सीएनएक्स ने 300 सीटें दीं, इंडिया न्यूज़-पोलस्ट्रैट ने 287 सीटें दीं, सीवोटर ने 287 सीटें दीं, न्यूज़ नेशन ने 286 सीटें दीं, एबीपी-सीएसडीएस ने 277 सीटें दीं और न्यूज़एक्स-नेता ने एनडीए को 242 सीटें दीं।

जब इन सभी का औसत निकाला गया तो एग्जिट पोल में एनडीए को औसतन 306 सीटें मिली थीं। जब वास्तविक नतीजे आए तो एनडीए को कुल 353 सीटें मिलीं। इस बार एग्जिट पोल और वास्तविक आंकड़ों में 47 सीटों का अंतर था। इन तीनों चुनावों के लोकसभा नतीजों और एग्जिट पोल के आंकड़ों का अध्ययन करने के बाद हम कह सकते हैं कि वास्तविक नतीजे एग्जिट पोल में जीतने वाले गठबंधन को मिलने वाली औसत संख्या से करीब 50 सीटों की बढ़त लेकर आते हैं।

यह भी पढ़ें | लोकसभा एग्जिट पोल परिणाम 2024 लाइव स्ट्रीमिंग: एबीपी-सीवोटर एग्जिट पोल – कहां और कैसे देखें लाइव?

3 bhk flats in dwarka mor
- Advertisement -spot_img

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -spot_img
Canada And USA Study Visa

Latest article